भारत ने पाकिस्तान को सिर्फ 1 रूपये में हरा दिया

623

भारत और पाकिस्तान दोनों के बीच में जो खटपट है वो अभी की नही है बल्कि 1947 से ही चली आ रही है. अलग मुल्क बना ही इसी सोच के साथ में था. हर बार भारत और पाकिस्तान कुछ सालो के अन्दर किसी न किसी वजह से भिड जाते है और हर बार भारत पाकिस्तान को किसी न किसी तरह से बुरी तरह से हराता है ये भी हमने खूब देखा है. इस बात में कोई भी शक नही है. अब भारत ने हर बार पाक को हराने के लिए करोडो अरबो जंग में खर्च दिए लेकिन इस बार तो सिर्फ एक रूपया ही लगा.

कुलभूषण जाधव केस की फीस हरीश साल्वे ने ली सिर्फ एक रूपया
आपको ये तो मालूम ही होगा कि कुलभूषण आखिर कौन है? वो भारतीय नागरिक जिसे ईरान से पाक द्वारा अगवा कर लिया गया और इसके बाद में उसे सैन्य अदालत में उसकी जान लेने की सजा तक सुना दी गयी. मगर भारत ने ऐसा होने नही दिया. भारत ने अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय में पाकिस्तान की इस हरकत के खिलाफ मुकदमा दायर किया और हरीश साल्वे ने इस मुकदमे की पैरवी की. आपको जानकर के हैरानी होगी हरीश साल्वे ने इस हाई प्रोफाइल केस के लिए सिर्फ एक रूपये की फीस ली.

हरीश साल्वे के आगे नही टिका पाकिस्तान, हार गया मुकदमा
हरीश साल्वे ने मुकदमे को इतने सॉलिड तरीके से लड़ा कि पाकिस्तान के सारे तर्क और कुतर्क धराशायी हो गये. अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट ने पाक की अदालत के फैसले पर रोक लगाते हुए कहा है कि कुलभूषण को भारत से काउंसलर एक्सेस मिले और पाक की कोर्ट में सही तरीके से मामले की सुनवाई की जाए. इसके बाद मेंभारत के लिए ये बहुत ही बड़ी कूटनीतिक जीत है जिसके बाद कुलभूषण को बचाकर के लाने की संभावनाए बढ़ चुकी है और ये अपने आप में ख़ुशी का समय है.

इससे पहले भी भारत पांच से छः बार अन्तरराष्ट्रीय कोर्ट में जा चुका है और जिसमें अधिकतर बार फैसला भारत के पक्ष में ही आता है. भारत ने पहला मुकदमा पुर्तगाल के खिलाफ किया था जब उसने दादर और नगर हवेली पर कब्जा कर लिया था और वहाँ भी भारत जीता था.