जिस मंदिर में साक्षी अजितेश ने किया शादी करने का दावा, वहां के पुजारी ने बता दिया उसे फर्जी

604

बरेली शहर में इन दिनों में जो कुछ भी हो रहा है या फिर यूँ कहिये चल रहा है वो किसी की भी समझ से परे है क्योंकि विधायक राजेश मिश्रा का अपना पक्ष है, उनकी बेटी का अपना और बेटी के पति का अपना. अगर आपको जानकारी न हो तो बता दे साक्षी मिश्रा जो विधायक राजेश मिश्रा की बेटी है. उसकी जान पहचान एक युवक से हुई जिसका नाम अजितेश है. अजितेश से प्यार में पड़कर और घर वालो की मर्जी के खिलाफ न सिर्फ साक्षी ने शादी की बल्कि बादमे एक विडियो वायरल करके उसमे इल्जाम लगाया कि उसके परिवार वाले उन्हें परेशान कर रहे है मगर अब इस शादी पर ही सवाल उठने लगे है.

मंदिर के पुजारी ने कहा, फर्जी है ये शादी
साक्षी मिश्रा और उनके कथित पति अजितेश ने क्लेम किया था कि उन्होंने प्रयागराज के राम जानकी मंदिर में शादी की है जिसका उन्होंने सर्टिफिकेट भी जारी किया था. सर्टिफिकेट जारी किये जाने के बाद में लोग उनकी शादी पर विश्वास भी कर चुके थे लेकिन इन सबके बीच मंदिर के पुजारी परशुराम दास का बयान आया है. उन्होंने कहा ‘ जो लोग यहाँ शादी करने की बात कर रहे है उन्हें यहाँ पर कोई जानता ही नही है. यहाँ कोई शादी नही हुई है और न ही यहाँ शादियाँ होती है.’

अजितेश और साक्षी ने दी सफाई
अजितेश और साक्षी ने सफाई देते हुए कहा कि हमने उसी मंदिर में शादी की है लेकिन हमारी शादी इनके द्वारा नही करवाई गयी है. हमारा पंडित दूसरा था और हमने वही से शादी की है. हम इन्हें झूठा नही कह रहे है क्योंकि ये शादी के वक्त वहां पर मौजूद नही थे. अब अजितेश और साक्षी की शादी को अगर मंदिर के लोग ही नकार दे तो उनके पास में सबूत क्या है? वही एक भी फोटो न होना शक पैदा करने वाली बात है.

कोर्ट में शादी कर सकते है दोनों
अभी की रिपोर्ट के अनुसार जब से मंदिर की तरफ से ये बयान आया है उसके बाद में सूत्रों के अनुसार साक्षी और अजितेश कोर्ट में जाकर के शादी कर सकते है. ये काफी लंबा मामला खिंच चुका है जिससे ख़ास तौर पर साक्षी के घर वाले परेशान है और गुहार लगा रहे है इसे पारिवारिक ही रहने दिया जाये.