गोवा में 10 कांग्रेस विधायको ने ज्वाइन की बीजेपी, अमित शाह ने बिन मांगे दे दिया इतना बड़ा तोहफा

228

इन दिनों जब राजनीतिक लहर की बात आती है तो सिर्फ और सिर्फ एक ही पार्टी के पक्ष में हवा बहती हुई नजर आती है और वो पार्टी है भारतीय जनता पार्टी. ये बात सत्य है और पत्रकारिता की भाषा भी इसे झुठला नही सकती चाहे वो किसी भी विचारधारा से ताल्लुक रखती हो मगर बीजेपी को ज्वाइन करने का मकसद नेताओं का सिर्फ ये होता है कि बीजेपी नेशनल पार्टी है, सबसे बड़ी है, ब्रांड है और इससे हमारी राजनीतिक लाइफलाइन और लम्बी हो जायेगी. मगर क्या हो इसके बाद आपको पार्टी और कोई तोहफा भी दे दे तो? ये तो अपने आप में सोने में सुहागा हो जायेगा और ऐसा ही कुछ गोवा में हुआ है.

गोवा में कांग्रेस विधायको ने ज्वाइन की बीजेपी, बिन मांगे मिल गये मंत्रीपद
ग्रेस पार्टी के 10 विधायको ने गोवा में हाल ही में पार्टी को छोडकर के भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन कर ली है. पार्टी ज्वाइन उन्होंने बिना किसी शर्त और बिना किसी मांग की जिसके बाद में बीजेपी काफी खुश है क्योंकि जिन घटक दलों की मदद से उनकी सरकार चल रही थी अब उन्हें उनकी जरूरत ही नही पड़ेगी. इसके चलते बीजेपी ने उन लोगो से मंत्री पद वापिस ले लिए है.

अब 4 लोगो से मंत्री पद वापिस लिए गये है और उनको भरने के लिए कुल तीन पूर्व कांग्रेस विधायको को जगह दी गयी है. इनमे से एक चंद्रकांत कावलेकर को तो गोवा का उपमुख्यमंत्री ही बना दिया गया है. अब आप खुद सोचिये विपक्ष में रहते हुए जिन्हें कोई पूछ तक नही रहा था अब वो गोवा में मंत्री और उपमुख्यमंत्री तक बन चुके है. हालांकि इससे सबसे ज्यादा नुकसान गोवा फॉरवर्ड पार्टी का हुआ है क्योंकि उनके समर्थन से ही बीजेपी की सरकार चल रही थी और वो अपनी मनमानी कर लेते थे लेकिन अब ऐसा नही हो पायेगा.

कांग्रेस के दस विधायको के बीजेपी में शामिल होने के बाद में जीआरएफ का अस्तित्व तो मानो न के बराबर रह ही गया है लेकिन साथ ही साथ में ये कांग्रेस के लिए भी बहुत ही बड़ा झटका है क्योंकि एक समय में कांग्रेस गोवा में सबसे बड़ी सिंगल पार्टी बनकर के उभरी थी लेकिन अब उसे कोई पूछ तक नही रहा है.