महबूबा मुफ़्ती ने दिया अमरनाथ पर बड़ा ही शर्मनाक बयान, हिन्दुओ की आस्था पर चोट

194

महबूबा मुफ़्ती शरू से ही अपने विवादास्पद बयानों को लेकर के चर्चा में रही है. उनके बयान हमेशा ही अपनी राजनीति के पक्ष में और देश के खिलाफ रहे है. कभी वो राष्ट्रीय अखंडता के खिलाफ खड़ी हो जाती है तो कभी उनके बयान पूरे कश्मीर के लिए ही परेशानी का सबब बन जाते है और हाल ही में ऐसा एक बार फिर से हुआ जब महबूबा मुफ़्ती हिन्दुओ की अमरनाथ यात्रा के खिलाफ खड़ी नजर आयी. जिसके बाद में देश भर में उनका सोशल मीडिया पर विरोध किया जा रहा है मगर महबूबा को इन सबसे कोई भी फर्क कहाँ पड़ता है?

अमरनाथ यात्रा से हो रही कश्मीरियों को असुविधा
महबूबा मुफ़्ती ने कहा कि कश्मीर से होकर हर साल लोग अमरनाथ यात्रा करने के लिए जाते रहे है लेकिन इस बार की गयी सुरक्षा व्यवस्था कश्मीरियों के खिलाफ है. जब अमरनाथ यात्रा के लोग हाईवे से गुजरते है तो कश्मीरियों को हाईवे का इस्तेमाल तक नही करने दिया जाता है. उन्हें कई घंटो तक इन्तजार करना पड़ता है. यात्रियों की वजह से कश्मीर के स्थानीय लोगो को बहुत ही ज्यादा समस्या हो रही है. राज्यपाल सत्यपाल मलिक को इस पर ध्यान देना चाहिए.

राज्यपाल ने भी दे दिया दो टूक जवाब
राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने भी साफ़ कर दिया कि उनकी तरफ से किसी भी नीति में कोई भी बदलाव नही किया जाएगा क्योंकि यात्रियों की सुरक्षा उनके लिए सबसे अहम् है. 14 फरवरी को जो भी सीआरपीएफ के जवानो के साथ पुलवामा में हुआ उससे तो आप अवगत ही है इस वजह से अब तीर्थयात्रियों की सुरक्षा के लिए ये रोक अनिवार्य है. राज्यपाल इस सुरक्षा को मजबूत करने में सुरक्षा बलों का भरपूर सहयोग ले रहे है ताकि उपद्रवियों से दूर शान्तिपूर्ण तरीके से भोले के भक्त अपनी यात्रा को अच्छे से पूरा कर सके.

हालांकि महबूबा मुफ़्ती लगातार इसका विरोध कर रही है क्योंकि उनकी नजर में कश्मीरियों का यहाँ पर पहला हक़ है इसलिए उन्हें कही भी रोका नही जाना चाहिए. गौरतलब है कि कश्मीर से कोई भी टैक्स कलेक्शन न के बराबर है और वहाँ पर बना रोड या इन्फ्रास्ट्रक्चर सब अन्य राज्यों की देन है. ऐसे में महबूबा मुफ़्ती के पास तर्कसंगत जवाब मौजूद नही है.