बजट का साइड इफ़ेक्ट: आज रात से इतनी बढ़ जाने वाली है पेट्रोल और डीजल की कीमत

290

मोदी सरकार ने अपना बजट पेश कर दिया और बजट के पेश होते ही पूरे बाजार में हलचल मच गयी. सरकार अब फ़िलहाल इन्फ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने के लिये सरकार ने कई अतिरिक्त टैक्स भी है जो आम लोगो पर लगाये है जिनमें से एक तरह की ड्यूटी पेट्रोल और डीजल पर भी लगा दी गयी है. आंकड़ो के अनुसार अभी के वित्तीय बजट के बाद में पेट्रोल और डीजल दोनों पर ही पूरे 1-1 रूपये का अतिरिक्त टैक्स लगा दिया गया है. पहले जहाँ पेट्रोल पर सरकार 17.98 रूपये वसूला करती थी उसकी जगह पर अब सरकार 18.98 रूपये का कर वसूलेगी.

इसके चलते पेट्रोल और डीजल दोनों की ही कीमत आज रात से बढ़ जाने वाली है. आज रात 12 बजे के बाद में पेट्रोल की कीमत 2 रूपये 50 पैसे और डीजल की कीमते 2 रूपये 30 रूपये बढ़ जायेगी. हालांकि  निजी वाहनों में तेल भारवाने वालो की जेब पर ये बहुत ही ज्यादा फर्क नही डालेगी लेकिन अगर ढाई रूपये तक ईंधन की कीमते बढ़ती है तो इससे ट्रांसपोर्ट की कीमत बढ़ जायेगी.

जिससे बस के टिकट, ट्रक में चलकर आने वाली फल सब्जिया भी महँगी होगी क्योंकि माल परिवहन पर पेट्रोल और डीजल की कीमतों का बहुत ही ज्यादा प्रभाव पड़ता है. ऐसी स्थिति में आम आदमी की जेब पर थोडा सा बोझ तो जरुर पड़ेगा लेकिन सरकार का कहना है कि जो भी एक से दो रूपये की बढ़ोतरी नागरिको को झेलनी पड़ रही है उसका उपयोग सड़क इन्फ्रास्ट्रक्चर को बनाने में किया जाएगा.

देश काफी बड़ा है और उसके लिए 135 किलोमीटर रोजाना रोड बनाने की जरूरत है और ये सब होगा पैसे से जिसके लिए सेस बढ़ाया जा रहा है. अब ऐसे में आम नागरिको की जेब पर थोडा सा बोझ तो बढेगा लेकिन इसके बदले में सरकार बहुत कुछ देने का वादा भी जरुर कर रही है. खैर इसके परिणाम बहुत ही बेहतर होते है या फिर नही ये तो आने वाले वक्त में पता चल ही जायेगा.