नुसरत जहाँ ने की भगवान जगन्नाथ की पूजा, कट्टर मौलवियों को दिया करारा जवाब

276

नुसरत जहाँ काफी ज्यादा चर्चा में रहने वाली सांसद बन चुकी है क्योंकि वो आये दिन कुछ ऐसे काम कर रही है जो उन लोगो को पसंद नही आ रहे है जो उनके धर्म से ताल्लुक रखते है या फिर उनके धर्म की नुमायन्दगी करते है. नुसरत ने पहले तो एक हिन्दू व्यापारी निखिल जैन से शादी की, इसके बाद उन्होंने माथे पर सिन्दूर और गले में मंगलसूत्र भी पहना और यहाँ पर तो उनके खिलाफ लोग बोलने भी लग गये थे लेकिन इन सबसे परे हटकर के नुसरत ने एक और कदम आगे बढाया है जो शायद उन लोगो को पसंद नही आयेगा जो दुसरे धर्म से नफरत करते है.

सांसद नुसरत जहां उडीसा के पुरी में पहुँची और वहाँ जाकर उन्होंने पूरे हिन्दू स्त्री के वेश में यानी कपड़ो में जाकर नारियल फोड़ा और भगवान जगन्नाथ की पूजा की, उनकी रथ यात्रा में भी शामिल हुई. उनके हिन्दू धर्म के प्रति सम्मान लोगो के दिलो में उनके लिए काफी ज्यादा सम्मान जगा रहा है.

नुसरत ने वहाँ पर रथयात्रा में पूरे दिल से भाग लिया और जब उनसे पूछाफतवे और उनके खिलाफ दिए जा रहे बयानों पर पूछा गया तो उन्होंने इस पर बड़ा ही खुलकर के जवाब दिया और कहा ‘ फतवे जैसी चीजे आधारहीन होती है और मैं इन पर बिलकुल ध्यान ही नही देती. मैं जन्म से मुस्लिम थी और आगे भी रहूँगी. ये आस्था का मामला है और इसे दिल से महसूस किया जाना चाहिए न कि दिमाग लगाना चाहिए. हम विकास पर आगे बढ़ रहे भारत के नागरिक है और यहाँ पर सभी परम्पराओं और संस्कृतियों का सम्मान किया जाना जरूरी है.

मैं एक सेक्युलर भारत की नागरिक हूँ और मेरा धर्म लोगो को भगवान के आधार पर बांटना नही सिखाता है.’ इससे पहले भी नुसरत ने इसी तरह से कहा था कि मैं सामूहिक भारत का प्रतिनिधित्व करती हूँ. मैं अपने पति के घर के रीति रिवाज भी अपनाउंगी. जिस तरह से नुसरत अपने ही मजहब में अपने लिए नए नये दुश्मन बना रही है वो उनके लिए आगे चलकर के मुसीबत भी बन सकते है इस बात को कही से भी नकारा नही जा सकता है.