अमेरिका ने कहा इस वजह से 2050 में सब योजनाये होगी फेल, भारत पर मंडरायेगा सबसे बड़ा खतरा

1173

भारत आज की तारीख में सबसे ज्यादा उड़ान भरता हुआ देश है. यहाँ पर न्यू इंडिया और यंग इंडिया जैसे शब्दों का इस्तेमाल करके सबके अन्दर जोश भरा जाता है और सरकार इतनी सारी जनसंख्या को साधकर देश को एक बहुत ही बड़ी उंचाई पर ले जाना चाह रही है लेकिन अमेरिका का तो इस पर कुछ और ही कहना है और जो रिपोर्ट आयी है उसकी सच्चाई को हम किसी भी आड़ में नकार तो बिलकुल भी नही सकते है जिसके मुताबिक़ हिन्दुस्तान जल्द ही दुनिया का सबसे जवान से सबसे बूढा देश बन जाने वाला है और ये बहुत बड़ा खतरा है.

भारत बनेगा सबसे बूढा देश
अमेरिका की एक एजेंसी पापुलेशन रेफरेंस ब्यूरो द्वारा किये गये एनालिसिस के मुताबिक़ भारत ने अपनी जनसँख्या इतनी बढ़ा ली है कि अब इसके दुष्परिणाम आने वाले दशको में नजर आयेंगे. 2050 तक देश बुजुर्गो का देश बन जाएगा क्योंकि आज जो  भारत की लगभग 60 प्रतिशत के करीब आबादी खुदको जवान कहती है वो आज से 30 साल के बाद में बूढी हो जायेगी जो देश की अर्थव्यवस्था में कोई योगदान नही देगी उल्टा इस देश पर सिर्फ बोझ बनकर के रह जायेगी जिसे ढोना सरकार के लिए खाली बर्तन से पानी पीने की कोशिश करने जैसा होगा.

योजनाये होगी फेल और बढेगा आर्थिक बोझ
रिपोर्ट के अनुसार बुजुर्ग भारत में तीन गुना बढ़ जायेंगे जिसके चलते उन पर बजट की मात्रा बढाने पर भी सरकार को विवश होना होगा. वो नौकरी या  बिजनेस कर पाने में भी सक्षम नही होंगे जिसके चलते सरकार को उनसे कोई फायदा भी नही होने वाला है. उम्रदराज होने की वजह से इस तबके में बीमारियाँ भी ज्यादा होगी और इनसे निपटने के लिए देश का बहुत बड़ा पैसा बहेगा. यही नही जो योजनाये आज भारत की स्थिति को संभालने के लिए दम भरके दिखाई जाती है वो इस स्थिति से निपटने के लिये पर्याप्त नही है. ऐसे में भारत के लिये इस मुश्किल से निकल पाना बिलकुल असंभव हो जायेगा.

भारतीयो की आदते ही है इस आगामी संकट का कारण
एक रिपोर्ट के अनुसार भारतीयों की तीन आदते आवश्यकता से अधिक बच्चे पैदा करना, स्कूली शिक्षा को सही ढंग से पूरा न कर पाना, स्किल डेवलपमेंट में कमी, टैक्स की चोरी और भ्रष्टाचार इस समस्या का मुख्य कारण है, क्योंकि लोग पर्याप्त टैक्स जमा नही करवा रहे है जिसके चलते सरकार बस आज का काम चला रही है भविष्य के लिए अच्छा और विश्वस्तरीय इन्फ्रास्ट्रक्चर पर काम इस स्थिति में नही किया जा सकता है.