कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश पर बीजेपी ने लिया एक्शन, निगम अधिकारी पर बल्ला चलाया था

206

कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश की मुश्किलें कम होने का नाम ही नही ले रही है. आये दिन वो तरह तरह से राजनीतिक निशाने का शिकार हो रहे है और अब तो उनकी पार्टी भी उनकी हरकत से कही से भी सहमत नही है और बीजेपी कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश के खिलाफ एक्शन लेने जा रही है जो अपने आप में बेहद ही अप्रत्याशित है. हालांकि मीडिया की तरफ से पड़ रहे दबाव के कारण कही न कही पार्टी पर प्रेशर पड़ ही रहा था जिसके बाद में अब जाकर के भारतीय जनता पार्टी आकाश पर काफी सख्त होते हुए नजर आ रही है.

पहले मोदी ने घेरा फिर नोटिस देने की तैयारी
जुलाई की शुरुआत में बीजेपी की संसदीय दल की बैठक हुई इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिना नाम लिए आकाश को खरी खोटी सुनाई और कहा जिन लोगो में अहंकार होता है ऐसे लोगो को तो पार्टी में होना ही नही चाहिए. अब मोदी के बोलने की ही देर थी कि बीजेपी ने इस पर एक्शन लेते हुए सूत्रों के मुताबिक़ आकाश को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया है. आकाश को इस नोटिस में सही तरीके से जवाब देना होगा और अगर वो ऐसा नही करते है तो उनके खिलाफ और भी कार्यवाही हो सकती है.

आकाश समर्थक है बीजेपी के इस एक्शन से नाराज
आकाश के समर्थक और कई बीजेपी कार्यकर्त्ता भी बीजेपी के इस एक्शन से नाराज है और उनका कहना है कि आकाश पर की जा रही कार्यवाही गलत है. दिल्ली जैसी जगहों पर लोग सार्वजनिक स्थलों पर नुकसान पहुंचा रहे है उन पर तो किसी का बस नही चलता है लेकिन अगर कोई विधायक अपने लोगो के लिये खड़ा हो रहा है तो उसके लिए मुसीबत पर मुसीबत खड़ी की जा रही है. ऐसे में आकाश का भविष्य क्या होगा ये तो समय ही बतायेगा.

हालांकि पिता कैलाश विजयवर्गीय ने आकाश का विरोध नही किया है. उनका कहना है कि आकाश ने किसी बिल्डर के लिए ये लड़ाई नही लड़ी है. घर में एक बुजुर्ग महिला थी जिसके लिये आकाश ने ये किया. हालांकि बीत चलाने के मामले में उन्होंने कुछ भी नही  कहा है और पीएम मोदी के ये कथन उन्हें जाहिर तौर पर बुरे तो लगने वाले है.