टीम इंडिया के हारने पर महबूबा मुफ़्ती का बड़ा ही शर्मनाक बयान आया है

640

वर्ल्ड कप चल रहा है और क्योंकि भारत ने लगातार एक के बाद एक मैच भी जीता है तो इससे लोगो की उम्मीदे भी कई गुना बढ़ जाती है. भारत ने पाक और अफगान समेत वेस्ट इंडीज जैसे खिलाडियों को हराकर सेमी फाइनल के लिए अपनी काफी मजबूत दावेदारी पेश की लेकिन इंग्लैंड के सामने थोड़ी सी ढील देने के चलते इंडिया को एक जगह पर हार का सामना करना पडा. भारत की बॉलिंग काफी हद तक एवरेज रही और बैटिंग में बड़े शॉट न खेल पाने की वजह से टीम इंडिया पूरे 31 रनों से हार गयी ये फैन्स के लिए काफी दुःख से भरा पल था लेकिन कुछ लोग लोगो के दुःख पर भी राजनीति की रोटियाँ सेंकने से परहेज नही करते है. ऐसा ही कुछ महबूबा मुफ्ती ने भी किया है.

भगवा जर्सी को बताया हार का जिम्मेदार
महबूबा मुफ़्ती ने ट्वीट करते हुए लिखा आप मुझे अंधविश्वासी बुला सकते है लेकिन ये जर्सी ही है जिसने टीम इंडिया की जीत का विजयरथ रोक दिया है. आपको बता दे टीम इंडिया ने इस बार हमेशा की तरह पूरी नीली जर्सी की जगह ओरेंज कलर की जर्सी पहनी थी. महबूबा ने पहले भी भगवा रंग की जर्सी पर ऐतराज जताया था और अब जब टीम हार गयी है तो वो इस तरह से खिल्ली उड़ाने से भी परहेज नही कर रही है.

आईसीसी के नियमो की वजह से बदला गया था रंग
टीम इंडिया की जर्सी का रंग बदलने के पीछे कोई सरकार या लोकल पॉवर नही बल्कि आईसीसी के नियम है. इंग्लैंड और टीम इंडिया की जर्सी एक जैसी ही है तकरीबन और उन्हें अलग दिखाने के लिए दोनों का ही रंग अलग किया जाना जरूरी था जिसके चलते होम और अवे नियम के चलते टीम इंडिया को दुसरे रंग की जर्सी उपलब्ध करवाई गयी और उन्होंने ये मैच भी खेला. हालांकि अभी भी अगर टीम आगे का मैच जीत जाती है तो उनके लिए सेमीफाइनल में पहुँच पाना संभव हो जाएगा.

कांग्रेस, सपा और टीएमसी भी कर चुके है विरोध
ओरेंज या भगवा रंग के प्रति अपनी घृणा का सबूत सिर्फ महबूबा ही नही कांग्रेस, सपा और टीएमसी ने भी दिया है जब उन्होंने सरकार पर टीम इंडिया का भगवाकरण करने का आरोप लगाया. उम्मीद है जनता थोड़े पढ़े लिखे लोग चुनेगी तो वो जर्सी के कलर कैसे बदले जाते है और कौन बदलता है? वो भी समझ पाएंगे.