एक मोटरसाइकिल की वजह से ट्रम्प और मोदी की दोस्ती में दरार आ गयी

472

भारत इन दिनों में विश्व की सबसे अधिक उभरती हुई शक्ति है और इस बात में कोई भी शक नही है कि दुनिया के लिए भारत सबसे बड़े बाजारों में से एक है. हालांकि लोगो के पास में बहुत अधिक पूँजी नही है लेकिन फिर भी औसत बेहतर  है. ऐसे में जब बात बिजनेस की आती है तो हर देश अपना स्वार्थ ही देखता है और यही स्वार्थ भारत और अमेरिका के बीच भी उपज रहे एक नए झगडे का कारण बन रहा है जिसकी शुरुआत कही न कही डोनाल्ड ट्रम्प ने की है.

पहले भी भारतीय उप्तादो को अमेरिका में बिकने से रोकने की कोशिश डोनाल्ड ट्रम्प ने इस पूरे फसाद की शुरुआत कई महीनो पहले ही कर दी थी जब उन्होंने पहले भारतीय उत्पादों पर बाहरी भरकम टैरिफ लाद दिया और इसके बाद भारत का जीएसपी का दर्जा खत्म कर दिया. इससे भारत के बाजार में आयत और निर्यात का संतुलन बुरी तरह से बिगड़ गया.

भारत की जवाबी कार्यवाही से ट्रम्प गुस्से में भारत ने भी इसके जवाब में कई चीजो पर टैक्स बढ़ाना शुरू कर दिया. इसमें लग्जरी ब्रांड शामिल है और इससे अमेरिका का निर्यात घटा है. ट्रम्प इस पर गुस्से में है और उन्होंने एक दफा नही बल्कि कई बार हारले डेविडसन और उसके जैसे प्रोडक्ट्स पर टैक्स घटाने की बात कही है लेकिन भारत मान नही रहा है. आपको बता दे हार्ले डेविडसन की बेहद लग्जरी बाइक्स होती है जिन पर भारत ने लगातार कई बार टैरिफ बढ़ाया है और इसी से ट्रम्प का सर ठनका हुआ है.

ट्रम्प चाहते है कि सिर्फ उनकी कम्पनियां कमाई करे और बाकी के देश उनके सामने घुटने टेक दे जो कही न कही संभव नही है तो ऐसे में भारत के लिये खड़ा हो पाना काफी मुश्किल हो रहा है. हालंकि टैक्स घटाने को लेकर के तो भारत भी किसी भी तरह से तैयार नही है.