कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय को एक और बड़ा झटका

307

इन दिनो विजयवर्गीय परिवार के सितारे बड़ी गर्दिश में है और आये दिन एक के बाद एक परेशानियां सामने आकर के खड़ी हो रही है जो जाहिर तौर पर किसी को भी पसंद नही आयेगी. आपको पहले की घटना तो मालूम ही होगी कि नगर निगम की तरफ से इंदौर के एक इलाके में कर्मचारी और अफसर एक जर्जर मकान को तोड़ने के लिए पहुंचे थे जिसे बचाने के लिये आकाश विजयवर्गीय उन लोगो से अपने समर्थको के साथ भिड गये. न सिर्फ भिड़े बल्कि उन पर बैट से हमला तक कर दिया.

इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया और जमानत अर्जी खारिच करते हुए आकाश को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. न्यायिक हिरासत में रहना क्या कम था? जो एक और मुसीबत आन खड़ी हुई है. दरअसल आकाश विजयवर्गीय पर एक और मुकदमा सख्त कर दिया गया है और वो है सीएम कमलनाथ का पुतला जलाने का. इस घटना से कुछ समय पहले आकाश ने अपने समर्थको के साथ में मैदान में खड़े होकर मुख्यमंत्री कमलनाथ का पुतला फूँका था.

पुलिस का कहना है कि इसके लिए प्रशासन से अनुमति नही ली गयी थी और बिना अनुमति के ही ये सब कर दिया गया जिसके चलते उन्हें एक बार फिर से गिरफ्तार किया जाता है. यानी आकाश जेल में है लेकिन उन पर अब एक नही बल्कि दो दो केस चलाने की तैयारी हो रही है और ऐसे में उन्हें समस्याओं का सामना भी दुगुना करना पड़ेगा.

ऐसे में भारतीय जनता पार्टी प्रदेश की सरकार पर बदले की भावना से कार्यवाही करने का आरोप लगा रही है. राजनीति जारी है और सभी अपना अपना पक्ष भी रख रहे है लेकिन इन सबके बीच में आकाश विजयवर्गीय की मुश्किले काफी ज्यादा बढ़ गयी है और उन्हें कोर्ट के चक्कर भी ज्यादा लगाने पड़ेंगे इस बात से इनकार नही किया जा सकता है.