पीएम मोदी ने राहुल और सोनिया गांधी से क्यों कहा, ‘अब आप मजे करो’

301

फ़िलहाल देश में संसद का पहला सत्र चल रहा है और हर किसी को इससे काफी ज्यादा सीखने को भी मिल रहा है क्योंकि संसद में नेताओं के दिल की बात जुबान पर आ ही जाती है. ऐसे में हाल ही में सोनिया गांधी और राहुल गांधी दोनों ही चर्चा का विषय बने है और चर्चा का विषय बनाने के पीछे पूरा पूरा हाथ है कांग्रेस के ही नेता अधीर रंजन चौधरी का जो हाल ही में कई सारे विवादित बयान देकर के फंसे हुए नजर आ रहे है.

अधीर रंजन चौधरी ने बीजेपी सरकार पर प्रश्न चिन्ह लगाते हुए कहा था कि अक्सर कांग्रेस पार्टी को भ्रष्ट भ्रष्ट कहा जाता है लेकिन अगर कांग्रेस वाकई में भ्रष्ट है तो सोनिया गांधी और राहुल गांधी दोनों ही जेल में क्यों नही है? इस तरह से अधीर रंजन चौधरी ने मोरल तरीके से कही कही सोनिया और राहुल को डिफेंड करने की भरपूर कोशिश की थी.

मगर पीएम मोदी ने इसका भी तोड़ निकाला और अधीर रंजन चौधरी का जवाब देते हुए कहा ‘ हमारी लड़ाई भ्रष्टाचार के खिलाफ हमेशा ही जारी रहेगी. हमें इस बात को लेकर के कोसा जा रहा है कि इसे जेल में क्यों नही डाला उसे जेल में क्यों नही डाला? तो ये कोई इमरजेंसी नही है जहाँ पर कोई भी किसी को भी उठाकर के जेल में डाल देगा. ये काम न्यायपालिका का है, उसे करने दे. हम क़ानून से चलने वाले लोग है और अगर किसी को (सोनिया गाँधी और राहुल गांधी को) जमानत मिलती है तो एन्जॉय करे. हम बदले की भावना से काम नही करेंगे.

प्रधानमंत्री मोदी ने जिस तरह से अधीर रंजन चौधरी के सवालों के जवाब में एक तरफ तो कांग्रेस को इमरजेंसी की याद दिलाई और उसके बाद जमानत का जिक्र करके राहुल और सोनिया को एन्जॉय करने को कहा, उससे बड़ा कटाक्षीय व्यवहार शायद पहले कभी देखा नही गया है.