कोई मामूली आदमी नही है खेती करने वाला ये आदमी, पीएम मोदी का है बड़ा ख़ास

577

आम तौर पर जब भी आप किसी सरपंच या किसी भी विधायक वगेरह को देखते है तो उनका रूतबा तो आपने देखा ही होगा. जब भी कोई व्यक्ति छोटा मोटा भी जनप्रतिनिधि बन जाता है तो फिर वो छोटे मोटे काम की तरफ तो देखता ही कहाँ है? ऐसे दौर में हम आपको एक सादगी की मिसाल से मिलवाने जा रहे है जो आज की तारीख में एक सांसद है लेकिन सांसद जैसा गुरूर आपको उनके अन्दर बिलकुल भी नजर नही आता है.

हम बात कर रहे है चुन्नीलाल साहू की जो भारतीय जनता पार्टी के काफी जाने माने नेता है और पेशे से एक सांसद है मगर उनका मानना है कि वो सबसे पहले एक किसान है. अभी हाल ही में जब बरसात हुई तो ये पहली बरसात थी. पहली बारिश के वक्त चुन्नीलाल साहू अपने खेत में नजर आये.

उन्होंने लगभग दो घंटे तक अपने आधे एकड़ खेत को जोता. इस दौरान खेती की प्रक्रिया के कई हिस्से उन्होंने पूरे भी किये. जब उनसे पूछा गया कि आखिर उन्हें ये सब करने की जरूरत ही क्या है? तो इस पर जवाब देते हुए कहते है खेती तो हमारी जिम्मेदारी है, इसमें सुख है और यही हमारी सम्पति है. आखिर हम धरतीपुत्र है.

चुन्नीलाल इस तरह से हमेशा से ही खेती करते आये है और अपना समय गाँव के जीवन में ज्यादा लगाते है जो अपने आप में बाकी सांसदों के लिए भी काफी बड़ी सीख है हालांकि अधिकतर सांसद पद प्राप्त करने के बाद दिल्ली से बाहर निकलने की सोचते तक नही है है वही चुन्नीलाल साहू जैसे लोग मिसाल बनकर के सामने आते है. अब चुन्नीलाल अपने क्षेत्र में भी काफी एक्टिव नजर आते है और उनके नागरिको का कहना है कि वो क्षेत्र के लिए अच्छा प्रतिनिधित्व दे रहे है. पीएम मोदी के भी वो काफी करीबी सांसदों में गिने जाते है.