संसद में बोले प्रधानमंत्री मोदी, कांग्रेस पर एक के बाद एक 5 बड़े हमले

362

संसद का पहला सत्र है. काफी लम्बे समय से सभी पार्टियों के सभी नेता बोल रहे थे और एक दुसरे पर आरोप प्रत्यारोप का दौर भी चल रहा था. हर किसी के अपने मत होते है लेकिन सभी को इन्तजार था प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बोलने का क्योंकि जब वो संसद में बोलते है तो लगभग पूरे देश की जनता सुनती है. अपने वही नीले नेहरु जैकेट और सफ़ेद श्रित को पहने पीएम मोदी शाम के लगभग 5 बजे खड़े हुए और सदन को संबोधित करना शुरू किया. सम्बोधन के दौरान उन्होंने कांग्रेस को कई बार कटघरे में खड़ा किया.

कांग्रेस पार्टी द्वारा अभी चल रही हवा हवाई बातो से लेकर आपातकाल पर भी कांग्रेस पार्टी को घेरा. चलिये फिर जानते है कांग्रेस पार्टी को लेकर प्रधानमंत्री मोदी द्वारा कही गयी 5 प्रमुख बाते जिस पर विपक्ष की बोलती पूरी तरह से बोलती ही बंद हो गयी.

  1. 25 जून( इमरजेंसी की रात) को देश की आत्मा को कुचल दिया गया था, पूरे देश को जेल खाना बना दिया, न्यायपालिका का अनादर किया गया और महापुरुषों समेत मीडिया पर भी अत्याचार किया गया था. कुछ लोगो के राजनीतिक हितो के लिए पूरे देश के लोकतंत्र को नुकसान पहुंचाया गया. इमरजेंसी का दाग कभी मिटने वाला नही है.
  2. कांग्रेस पार्टी के लोग बहुत ही उंचाइयो पर चले गये है, हम उस उंचाई पर नही जाना चाहते है क्योंकि वहाँ से जमीन दिखाई नही देती है. आप इतनी ऊँचे हो गये है कि वहाँ से जमीन दिखाई ही नही देती है.
  3. मनमोहन सिंह और राव जैसे लोगो की पार्टी में अनदेखी की गयी, उन्हें भारत रत्न नही दिया गया. पीएम मोदी ने उन्हें सम्मान देने की उनके योगदान को सम्मान देने की वकालत की.
  4. यूपीए सरकार के लोगो ने कभी एनडीए की तारीफ़ नही की,  जबकि मेने लाल किले से पूर्व प्रधानमंत्रियो की तारीफ़ की. इन्हें परिवार से बाहर कुछ भी नही दिखता.
  5. हमें भी मन करता है कि वैसे छुट्टियां मनाये, मालाये पहने लेकिन हमने ऐसा नही किया. हमने तो अपना जीवन देश के नाम कर दिया है.

कांग्रेस पर हमला करने के अलावा प्रधानमंत्री ने जल संचय से लेकर विकास कार्यो पर भी बात की. सरकार बनने केबाद 3 हफ्तों के भीतर जो भी काम हुआ है उस पर भी उन्होंने रिपोर्ट पेश की.