चमकी बुखार पीड़ित गाँव में पहुंचे बिहार के विधायक, गाँव वालो ने किया ऐसा बुरा हाल

58

फ़िलहाल बिहार में हालात काफी गंभीर हो रखे है. बिहार के कई इलाको में चमकी बुखार का कहर है जिसके चलते 120 से भी ज्यादा बच्चो की जान जा चुकी है. बच्चो की जान जाने के बाद भी सरकार के पास में इतने संसाधन मौजूद नही है कि वो इस बीमारी के पीछे पड़कर इसे खत्म कर सके और ऐसे में लोगो का अपने जनप्रतिनिधियों पर गुस्सा हद से ज्यादा बढ़ चुका है.

इतने गुस्से के चलते लोग भी ऐसी हरकते कर रहे है जिससे जनप्रतिनिधियों की हालत खस्ता हो चली है. स्थानीय विधायक और एलजेपी के नेता राजकुमार शाह को लोगो के गुस्से का ऐसा सामना करना पडा जिससे उनकी सिट्टी पिट्टी ही गुम हो गयी. विधायक राजकुमार साह बिहार के हरिवंशपुर गाँव में पहुंचे थे जहाँ पर गाँव के लोगो ने उन्हें घेर लिया. घेरने के बाद में लोगो ने न सिर्फ उन्हें उन्हें बंधक बना लिया.

काफी देर तक उनके साथ में धक्का मुक्की भी हुई और वो दिमागी तौर पर परेशान भी हुए. बहुत देर तक परेशानी झेलने के बाद जैसे तैसे करके राजकुमार साह रूपये पैसे देकर के वहाँ से छूटे. जिस तरह से गाँव के लोगो ने अपना गुस्सा जाहिर किया उसके बाद मे एक बात तो साफ़ है कि कही न कही बिहार में विधायक और सांसद लोगो के बीच में अब अपना विश्वास खोने लगे है.

हालांकि हरिवंशपुर अकेला गाँव नही है जहाँ पर इस तरह की घटना हुई हो इसके अलावा एक अस्पताल के बाहर भी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने सरकार के काम न करने को लेकर के प्रदर्शन किया जिसके बाद में वहाँ पर इलाज का काम बाधित हुआ. इन सबके बावजूद  बिहार की सरकार और वहाँ के जन प्रतिनिधि ऐसा कुछ भी करते हुए नजर नही आ रहे है जिससे कि लोगो के दिलो में एक बार फिर से उनके लिए विश्वास जग सके.