13 साल का बच्चा अब तक लिख चुका है पीएम मोदी को 37 चिट्ठियाँ, हर बार मांगता है एक ही मदद

385

जब से नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने है तब से ही लोगो के बीच में एक भरोसा तो कायम हुआ है जिसे लेकर के उनकी तारीफ़ हुई है. देश के छोटे छोटे नागरिक भी उन्हें अपना मानते है और उनसे डायरेक्ट कनेक्ट करते है जो अपने आप में अच्छी बात है. कानपुर के रहने वाले सत्यजीत त्रिपाठी का बेटा है सार्थक. सार्थक ने अब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक दो नही बल्कि 37 चिट्ठियाँ लिख दी है और हर बार वो अपने पापा की मदद करने की गुहार लगाता है.

सार्थक का कहना है कि उसके पापा स्टॉक एक्सचेंज में काम करते थे लेकिन उन्हें वहाँ पर धमकियां मिलने लगी. इसके बाद उन्हें नौकरी से चले जाने के लिए भी कहा गया. यही नही ये सिलसिला रूका नही है, उन्हें जान से खत्म कर देने तक की भी धमकियां दी जाती है जिसके चलते सार्थक काफी ज्यादा चिंता में रहता है.

सार्थक हर बार पीएम को चिट्ठी लिखता है जिसमे अपना दुखड़ा सुनाता है और कहता है जो भी उसके पापा को परेशान कर रहे है और उनकी नौकरी भी छींटे है उन सभी को क़ानूनी तौर पर सजा दिलवाइये. सार्थक कहता है कि मुझे मोदी बाबा पर भरोसा पूरा है, वो जल्द ही एक न एक दिन मेरी मदद करेंगे और जब करेंगे तब सारी परेशानियां दूर हो जायेगी.

सार्थक ये काम 2016 से कर रहा है हालांकि उसे अब तक जवाब नही मिला है क्योंकि इसके लिए पीएम तक चिट्ठी पहुंचना और उनका उसे पढना भी जरूरी है तो संभवतः उन्हें अभी तक ये चिट्ठी मिली ही नही है तो फिर ऐसे में सार्थक की उम्मीद टूटने के आसार तो है लेकिन वो अभी भी हौसला रखे हुए है कि मोदी बाबा से सरकार से उनके और उनके पापा के लिए कुछ न कुछ मदद तो जरुर आयेगी.