ममता बनर्जी ने किया प्रधानमंत्री मोदी का अपमान, लोग बोले ‘इससे शर्मनाक और कुछ नही’

401

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ममता बनर्जी के बीच में हुई खींचतान से कोई भी नावाकिफ नही है. हर कोई जानता है कि एक राज्य की मुख्यमंत्री और देश के प्रधानमंत्री के बीच में किस तरह से खींचतान चल रही है लेकिन ये बात इस हद तक गिर जायेगी कि ममता बनर्जी प्रधानमंत्री पद का ही अपमान करने लगेगी इसकी कल्पना किसी ने भी नही की थी मगर भारतीय राजनीति के इतिहास में ऐसा हो रहा है जब ममता बनर्जी ने देश के प्रधानमंत्री की बैठक में आने से ही मना कर दिया और इसकी चर्चा अब देश के हर कोने में हो रही है.

नीति आयोग की बैठक को ठुकराया
ममता बनर्जी ने कहा कि हम बिना मतलब की बैठको में शामिल नही हो सकते है. नीति आयोग के पास में कोई भी वित्तीय अधिकार नही है तो ऐसे में हम इसकी बैठक में शामिल नही हो सकते. ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री के इस आयोग की बैठक को फ़ालतू बताया है.

पहले भी कर चुकी है पीएम का अपमान
ममता बनर्जी ने पहले भी प्रधानमंत्री मोदी का अपमान किया था जब उन्होंने कहा था कि नरेंद्र मोदी देश का प्रधानमंत्री होगा लेकिन मैं उनको अपना पीएम नही मानती हूँ जिसके बाद ममता की देश भर में अच्छी खासी आलोचना हुई थी और लोगो ने ममता को सोच समझकर और सही बोलने की नसीहत दी थी. हालांकि पीएम मोदी ने कभी भी ममता बनर्जी के इतने भद्दे स्तर के बयानों का जवाब नही दिया है.

नीति आयोग की बैठक में राज्यों के मुख्यमंत्री बैठते है और सभी बड़े बड़े पदाधिकारी होते है जो मिलकर के देश के लिए योजनाओं और वित्तीय ढांचे से सम्बंधित गहन मंथन करते है ताकि एक बेहतरीन साँचा बनाया जा सके जिसमे देश को आराम से रखा सके. ममता बनर्जी ने इतने उच्च स्तरीय आयोग को बिना मतलब का बताकर पीएम मोदी के पद और उनकी गरिमा का जो अपमान किया है उसके बाद लोगो ने सोशल मीडिया पर लोगो का गुस्सा फूट पडा है.