बड़ी खबर: सिद्धू ने कांग्रेस में की बगावत, कैप्टन अमरिंदर के खिलाफ खुलकर बोले

323

नवजोत सिंह सिद्धू इन दिनों अपनी राजनीति के सबसे बुरे दौर में है जहाँ पर उन्होंने पेराशूट नेता के तौर पर कांग्रेस में एंट्री तो ले ली लेकिन ये एंट्री उनके ही अपने कांग्रेस साथियो को पसंद नही आ रही है. खासतौर पर सिद्धू के साथ में पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की तो ठनी ही रहती है, लेकिन किसी को ये मालूम नही नही था कि सिद्धू इस तरह से पंजाब कांग्रेस में बगावत पर उतर आयेंगे और ऊपर से मीडिया में भी ऐसा ढिंढोरा पीटेंगे कि पूरी पंजाब कांग्रेस को शर्मिंदगी उठानी पड़ेगी.

मुख्यमंत्री की बैठक का बहिष्कार
दरअसल आज ही मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में मंत्रियो की बैठक की जानी थी जिसमे सभी लोग आने थे लेकिन सिद्धू उस बैठक में नही पहुंचे. यही नही सिद्धू उस बैठक जगह मीडिया में पहुंचे और जाकर के अपने दिल का दुखड़ा सभी के सामने रख दिया कि कांग्रेस में उनके साथ में भेदभाव हो रहा है. सिद्धू ने कहा ‘ मैं एक बेहतर परफ़ॉर्मर हूँ लेकिन फिर भी सिर्फ मुझपर एक्शन क्यों लिया जा रहा है?पार्टी के लोग मुझे निशाना बना रहे है और पार्टी से निकलवाना चाहते है.’

मुख्यमंत्री अमरिन्दर ने बताया था हार का जिम्मेदार
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पहले ही सिद्धू को कांग्रेस की हार के पीछे का फैक्टर बता चुके है. अमरिंदर सिंह ने आम चुनावों में कांग्रेस पार्टी की हार के बाद कहा था कि सिद्धू का पाक प्रेम और बाजवा से दोस्ती कांग्रेस पार्टी को नुकसान पहुंचा गयी जिसके बाद से ही दोनों के बीच में काफी बुरी तरह से ठन गयी.

इसी बीच अमरिंदर ने तो ये भी आरोप लगाये कि सिद्धू उन्हें हटाकर के उनकी मुख्यमंत्री की कुर्सी हड़प कर लेना चाहते है जबकि सिद्धू उल्टा अब अमरिंदर और उनके खेमे पर ही उन्हें पार्टी से निकलवाने की कोशिश करने के आरोप मढ़ रहे है. ये सब होता हुआ देखकर के एक बात तो साफ़ साफ़ नजर आती है कि राज्य की कांग्रेस पर राहुल गांधी का फ़िलहाल कोई कण्ट्रोल नही है.