गहलोत के खिलाफ राजस्थान कांग्रेस में बगावत, इस नये चेहरे को सीएम बनाने की मांग

184

देश की रानीति से इन दिनों राजस्थान की राजनीति अलग ही चल रही है. इन दिनों सत्ता में बैठी राजस्थान कांग्रेस के बीच में खींचतान चल रही है और इस खींचतान में दो धड़े बन चुके है. पहला वो जो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पक्षधर है और दूसरे वो जो सचिन पायलट को सत्ता की चाबी सौंपना चाहते है. इन दोनों के बीच में ये कशमकश पहले से ही चल रही थी लेकिन हाल ही में ये काफी ज्यादा बढ़ गयी जब अशोक गहलोत ने सचिन पायलट पर ये आरोप लगाया कि ‘ मेने अपने बेटे वैभव गहलोत को जोधपुर लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लडवाया था मगर वो चुनाव हार गया, इसके लिए सचिन पायलट जिम्मेदार है.’

इन सबके बीच एक बहुत बड़ा वर्ग राजस्थान कांग्रेस के विधायको में है जो चाहता है अशोक गहलोत को हटाकर के सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाया जाए. अब तक कोई बोल भी नही रहा था लेकिन अब पहली बार विधायक पृथ्वीराज मीणा ने खुलकर सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाने के लिए कहा है.

विधायक पृथ्वीराज मीणा ने कहा ‘ सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनना ही चाहिए आखिर उनकी वजह से पार्टी को विधानसभाचुनावों में बहुमत मिला था. अशोक गहलोत का प्रभाव पहले था लेकिन अब गहलोत का कोई भी प्रभाव नही रहा है.” ये राग सिर्फ पृथ्वीराज ही नही बल्कि कई सारे कांग्रेस विधायक है जो अलाप रहे है. ऐसी स्थिति में अशोक गहलोत की गद्दी खतरे में पड़ते हुए नजर आ रही है.

राजस्थान का गुर्जर समुदाय पहले ही कांग्रेस पार्टी को सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाने के लिए कह रहा है वरना अगले चुनावो में नतीजे भुगतने को कहा है. अशोक गहलोत जोधपुर शहर के सरदारपुरा से एक नही बल्कि बार बार विधायक रह चुके है और इस बार उन्होंने अपने बेटे को जोधपुर लोकसभा क्षेत्र से सांसद बनाने का प्रयास किया था लेकिन वो विफल रहे.