हार के लिये मायावती ने अखिलेश को कोसा, अखिलेश यादव ने भी दिया जवाब

272

अखिलेश यादव और मायावती ने जिन उम्मीदों के साथ में गठबंधन किया था वो उम्मीदे पूरी नही हो सकी और उसका नतीजा हुआ चुनावी परिणाम आते ही दोनों एक दूसरे को कोसने में लग गये है और ये यूपी की राजनीती में नयी बिसाते लिख रहा है. दरअसल अखिलेश यादव और मायावती बीजेपी को रोक नही पाए है और ऐसे में मायावती ने प्रेस वार्ता कर अखिलेश और उनकी पार्टी को ही हार के लिए जिम्मेदार ठहरा दिया. ये अखिलेश के लिए किसी सदमे से कम नही था लेकिन ये बाते वाकई में मायावती ने कही है.

अखिलेश के बारे में क्या बोली मायावती
मायावती ने प्रेस वार्ता कर कहा अखिलेश का उनके अपने यादव वोटरों पर भी कमांड नही है. वो अपने वोट हमारी पार्टी को ट्रान्सफर नही करवा पाए है. यहाँ तक कि उनके कई बड़े बड़े दिग्गज नेता तक हार गये. ऐसे में अगर समाजवादी पार्टी का यही हाल रहता है तो हमारा अलग रहना ही बेहतर होगा.

अखिलेश यादव ने भी दिया जवाब
अखिलेश यादव काफी वक्त तक जवाब देने से बचते रहे क्योंकि वो मीडिया में इसकी चर्चा नही करना चाहते थे लेकिन आखिरकार अखिलेश यादव यादव ने मायावती को जवाब दे ही दिया है. अपनी बुआ को जवाब देते हुए अखिलेश यादव ने कहा ‘ अगर गठबंधन नही है तो कोई बात नही अलग अलग चुनाव लड़ेंगे. समाजवादी पार्टी चर्चा करने के बाद सभी 11 सीट्स पर उपचुनाव लड़ेगी. रास्ते अलग अलग है तो उसके लिए भी बधाई.’ अखिलेश यादव के इस बयान ने उनके इरादे साफ़ कर दिए है.

अपने पूरे कुनबे से लडकर अखिलेश ने मायावती से गठबंधन किया था लेकिन आखिर में उन्हें मायावती से अपेक्षित व्यवहार नही मिला है और ऐसे में संभव है कि अब ये भविष्य में दुबारा एक मंच पर नजर ही न आये. बीजेपी नेता स्वामी प्रसाद मौर्य का कहना है कि मायावती ने अखिलेश को फंसाकर परास्त कर दिया और अब वो शून्य से दस सीट पर चली गयी जबकि अखिलेश वही पांच पर रह गये.