साक्षी महाराज ने ममता बनर्जी पर साधा निशाना, इतिहास के इस पात्र से कर दी तुलना

85

ममता बनर्जी इन दिनों में सबसे ज्यादा चर्चित मुख्यमंत्री बन चुकी है और इसके पीछे उनके द्वारा बंगाल में लगातार फैलाई जा रही नकारात्मकता है इसमें कोई भी दो राय नही है. दरअसल ममता बनर्जी ने न सिर्फ जय श्री राम बोलने वाले 8 लोगो को पुलिस से कहकर गिरफ्तार करवाया है बल्कि बीजेपी के कार्यकर्ताओ पर राम का नाम लेने पर लाठीचार्ज की भी खबरे आ रही है.

ऐसे में बीजेपी ममता बनर्जी पर काफी आक्रामक हो गयी है और सांसद साक्षी महाराज ने ममता बनर्जी की तुलना हिरण्यकश्यप के खानदान से कर दी है. साक्षी महाराज का कहना है कि जैसा ही बंगाल का नाम आता है तो मुझे त्रेतायुग की याद आने लगती है जहाँ पर राक्षसों के राजा हिरन्यकश्यप ने अपने ही बेटे को जय श्री राम बोलने के लिए यातनाये दे दी थी. अब ममता बनर्जी भी बिलकुल वही कर रही है, वो जय श्री राम बोलने वालो को जेल में डाल रही है.

इसके बाद साक्षी महाराज ने सवाल उठाते हुए कहा. ‘कही ममता बनर्जी हिरन्यकश्यप के खानदान की तो नही है?’ साक्षी महाराज के इस बयान के बाद में राजनीतिक गलियारों में काफी बवाल कट रहा है जहाँ पर कुछ लोगो ने साक्षी महाराज का समर्थन करते हुए नजर आ रहे है तो कुछ लोग ऐसे भी है जो उन्हें सोच समझकर बोलने की नसीहत दे रहे है. साक्षी महाराज अकेले नही है उनके अलावा बंगाल बीजेपी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने भी ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए पूछा था कि उन्हें जय श्री राम से इतनी चिढ क्यों है?

भारतीय जनता पार्टी के आधिकारिक प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने भी ममता का जिक्र करते हुए कहा ‘लादेन पर ध्यान देने वालो को जय श्री राम से तकलीफ तो होगी’ ममता बनर्जी के अलोकतांत्रिक तरीको की हर तरफ आलोचना हो रही है लेकिन इसके बावजूद ममता अपनी कार्यशैली से टस से मस होने को भी तैयार नही है और शायद इसे ही सत्ता का अहंकार कहते है.