ममता बनर्जी को 10 लाख ‘जय श्री राम’ लिखे पोस्टकार्ड भेजेगी बीजेपी

61

पश्चिम बंगाल में राम नाम की राजनीति दिन ब दिन गरमाती ही चली जा रही है और इन सबके बीच में कोई पिस रहा है तो वो है बंगाल की जनता जिसे अब राम का नाम लेने की भी आजादी नही है. दरअसल बंगाल में लगातार संघर्ष हो रहा है जहाँ बीजेपी ‘राम’ के नाम को बंगाल में जोर शोर के साथ उठाना चाहती है लेकिन ममता बनर्जी को ये नाम बिलकुल पसंद नही आ रहा जिसके चलते वो दमन की राजनीति पर उतर आयी है. जिसके विरोध में अब बीजेपी ने भी 10 लाख राम नाम के पोस्टकार्ड टीएमसी को भेजने का निर्णय लिया है.

क्या था पूरा मामला?
उत्तर 24 परगना में कुछ लोगो ने ममता बनर्जी के सामने जय श्री राम के नारे लगा दिये जिसके बाद ममता बनर्जी ने उन्हें सड़क पर ही धमकी दे डाली और इसके बाद उनमें से 7 या उससे भी अधिक लोगो को गिरफ्तार कर लिया गया. बीजेपी ने इस पर बेहद नाराजगी जाहिर की और पूरे बंगाल के कई हिस्सों में प्रदर्शन किया गया और जय श्री राम के नारे लगे लेकिन ममता की पुलिस ने न सिर्फ लोगो पर लाठीचार्ज किया बल्कि साथ ही साथ उन्हें दौड़ा दौड़ा कर पीटा भी गया. जिसके बाद बीजेपी के कई नेता और बंगाल बीजेपी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय भी काफी गुस्से में है.

अब भेजे जायेंगे पोस्टकार्ड
बंगाल में ही बीजेपी के काफी उभरते हुए नेता अर्जुन सिंह ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि अब पार्टी के लोग ममता बनर्जी को 10 लाख पोस्टकार्ड ‘जय श्री राम’ लिखकर के उनके पते पर भेजेंगे. ये एक सांकेतिक कदम होगा जिससे ममता बनर्जी को एहसास हो सके कि देश में हर किसी को अपने धर्म और संस्कृति के आधार पर बोलने की आजादी है. बीजेपी भी अब बंगाल में मौजूद अपने कार्यककर्ताओं को समर्थन दे रही है और संख्याबल बढ़ाती चली जा रही है.

वही ममता बनर्जी ने जय श्री राम पर आपत्ति जताते हुए अपने लोगो से ‘जय बांग्ला’ जैसे शब्द बोलने का आग्रह किया है. यानि पश्चिम बंगाल की राजनीति कही न कही ममता बनर्जी की चिढन और कुढ़न के इर्द गिर्द ही सिमट कर रह गयी है.