चुनाव आयोग ने रिजल्ट से पहले ही दिया विपक्ष को बड़ा झटका

146

देश में लोकसभाके चुनाव पूरे हो गये है और चुनाव पूरे होने के साथ ही साथ अब सभी लोग रिजल्ट आने का इन्तजार कर रहे है. हर किसी को बस इन्तजार है कि कब उनके सामने रिजल्ट आये और कब किसे सरकार बनाने का मौका मिले? जहाँ एक तरफ बीजेपी सरकार बनाने को लेकर के आश्वस्त नजर आ रही है और शान्ति से बैठी है वही विपक्ष इसके बिलकुल उलट काम कर रहा है. विपक्ष लगातार अब ईवीएम पर सवाल उठा रहा है.

इसके चलते विपक्ष की 22 पार्टियों ने एक साथ मीटिंग की थी और मीटिंग के बादमें तय किया गया कि चुनाव आयोग को ज्ञापन सौंपकर विपक्ष उनसे मांग करेगा कि सारे के सारे मतों की गणना का मिलान वीवीपेट से किया जाये. अब विपक्ष ने मांग तो कर दी लेकिन चुनाव आयोग ने विपक्ष की इस मांग को ठुकराते हुए उन्हें बड़ा झटका दे दिया है. चुनाव आयोग का कहना है कि हमारा सब काम बिलकुल साफ़ सुथरा और निष्पक्ष है. इसमें किसी भी तरह का कोई भी बदलाव नही होगा, सारे मतो की गणना पहले की ही तरह होगी.

चुनाव आयोग के बादमें विपक्ष के मुंह पर चुप्पी लग गयी है और बीजेपी को बोलने का मौका मिल गया है. भारतीय जनता पार्टी के नेता विजय गोयल ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा ‘अगर दो तीन पार्टियों को छोड़ दिया जाए तो सभी ईवीएम पर ही दोष मढती नजर आती है. जहाँ पर आप जीत जाओ वहां पर तो जीत और जहाँ आप हार जाओ वहाँ ईवीएम को दोष दे दो.

ऐसा करके ये लोग लोकतंत्र का ही अपमान कर रहे है.’ हालांकि विपक्ष इसके बाद भी लगातार डटा हुआ है चाहे उनकी मांग न मानी जा रही हो. बीजेपी से निष्कासित हुए दिल्ली के नेता उदित राज ने तो ईवीएम में धांधली के आरोप लगाते हुए सडको पर आकर आन्दोलन तक करने को कह डाला है.