बीवी ने दिया बीजेपी को वोट, तो पति ने फावड़े से उसकी जान ले ली

92

देश में राजनीति चरम पर है क्योंकि लोकसभा के चुनाव है मगर अगर इन्ही लोकसभा चुनावों में हँसते खेलते परिवार ख़त्म होने लग जाये तो क्या कहेंगे? उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में ऐसा ही एक मामला देखने में आया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार तरवानिया गाँव के युवक रामबचन ने गत रविवार को अपनी पत्नी नीलम से कहा था कि वो बीजेपी को वोट न देकर बसपा को वोट दे मगर अपने पति की बात को दरकिनार करते हुए नीलम ने अपनी पसंद की पार्टी बीजेपी को वोट दे दिया. जब पति को ये बात पता चली तो वो गुस्से में लाल हो गया और दोनों के बीच में कहासुनी होने लग गयी.

इसके बाद पति का गुस्सा इतना ज्यादा बढ़ा की उसने फावड़े से हमला करके नीलम की जिन्दगी ही ख़त्म कर दी. जब घर वालो को इस घटना का मालूम चला तो उन्होंने रामबचन पर दहेज़ का भी आरोप लगाया और कहा कि इसी वजह से उनकी बेटी की जान ली गयी है. आरोप के आधार पर लडकी के घर वालो ने वहां की नजदीकी सड़क को भी जाम किया और युवक को गिरफ्तार करने की मांग की.

पुलिस ने भी त्वरित कार्यवाही की और रामबचन को गिरफ्तार कर लिया गया है मगर उनका कहना है कि इनके बीच में वोट को लेकर के कहासुनी हुई थी और इसके बाद में ऐसी घटना हो गयी. फिलहाल रामबचन को पुलिस हिरासत में लेकर के उससे पूछताछ की जा रही है और बयान दर्ज किये जा रहे है. सोशल मीडिया पर भी इस घटना को काफी तूल मिला है जिसके चलते लोग इस कुकृत्य की निंदा कर रहे है.

हालांकि पीएम मोदी की मुख्य अपील भी मुस्लिम महिलाओं से रही है जब वो उनसे तीन तलाक पर उन्हें न्याय दिलाने के लिए प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से वोट हासिल करना चाहते रहे है क्योंकि महिला वोट बैंक एक बहुत बड़ा तबका है.