अर्नब से इतना क्यों चिढती है ममता? रिपब्लिक चैनल के लोगो पर हमला

111

ममता बनर्जी और उनकी पार्टी टीएमसी शुरू से ही मीडिया से दूरी बनाकर रखती है और ख़ास तौर पर नेशनल मीडिया से तो वो बिलकुल दूर ही रहना पसंद करते है क्योंकि उन्हें सवाल और विरोध पसंद नही. अभी हाल ही में इसका नजारा बंगाल में देखने में आया जब अर्नब गोस्वामी के चैनल रिपब्लिक की टीम रिपोर्टिंग करने के लिये बंगाल में पहुँची थी. पूरा मामला बंगाल के डायमंड हार्बर का है जहाँ पर रिपब्लिक की टीम अपनी गाडी के साथ मौजूद थी और रिपोर्टिंग चल रही थी. इसी दौरान चैनल के दावे के मुताबिक़ टीएमसी के कार्यकर्ताओ ने मौक़ा पाकर उनकी गाडी पर हमला किया और साथ ही साथ में उनके क्रू को भी शारीरिक रूप से नुकसान पहुंचाया.

इस दौरान टीम का हिस्सा रहे शवन सेन बुरी तरह से घायल हो गये. दावे के अनुसार ये टीम डायमंड हार्बर ने चुनाव की रिपोर्तिग्न रने के लिए पहुँची थी जहाँ पर कई घंटो तक वो रुके रहे और जब तक टीएमसी के कार्यकर्ताओं की नजर उनपर नही पड़ी तब तक सब ठीक था मगर जैसे ही वो उनकी नजर में आये तो उन पर पत्थरों से अटैक कर दिया गया और इसमें उनकी गाडी को नुकसान पहुंचा है.

हालांकि इसके बाद में पूरी टीम जैसे तैसे उस इलाके से निकलकर अपनी जान बचाने में कामयाब हो गयी है. ऐसा पहली बार नही हुआ है जब बंगाल में मीडिया पर ऐसा खतरा छाया हो. इससे पहले भी जी न्यूज और रिपबलिक पर बंगाल में निर्भीक रिपोर्टिंग करने को लेकर एफआईआर दर्ज करके उन्हें दबाने की कोशिश की गयी है.

टीएमसी मीडिया डिबेट्स में अपने प्रवक्ता भेजने से भी परहेज करती है जिसके चलते जनता से उनका कोई भी सीधा संपर्क नही है. एक नही कई बार टीएमसी प्रवक्ताओ को डिबेट्स में बुलाने की कोशिश की गयी लेकिन वो हमेशा से ही मीडिया से न सिर्फ दूर भागते है बल्कि उन्हें अपने तरीके से न चलने पर उनके खिलाफ बोलते हुए भी नजर आते है.