अमित शाह ने ममता बनर्जी को दी खुली चुनौती, टीएमसी के हाथ पाँव फूले

246

ममता बनर्जी और भारतीय जनता पार्टी के बीच में देखते हे देखते दूरियां बढ़ती ही चली जा रही है. दोनों ही पार्टियां एक दुसरे पर तरह तरह के आरोप लगा रहे है. इनके बीच का करण कही न कही इनके बीच में वैचारिक असमानताए है. अब से कुछ समय पहले ममता बनर्जी ने जय श्री राम के नारे पर आपत्ति जताई थी, ममता बनर्जी का काफिला रोड से गुजर रहा था जहाँ जय श्री राम के नारे लगे और ममता बनर्जी ने नारा लगाने वालो को धमकाया और धमकाते हुए कहा कि तुम्हे बंगाल में बाद में भी रहना है जिसके बाद में बीजेपी ने इस मुद्दे को राजनीतिक तौर पर भुनाना शुरू कर दिया और बीजेपी लगातार ममता बनर्जी को घेरने में लगी हुई है.

पहले तो पीएम मोदी ने ममता बनर्जी को निशाने पर लिया और कहा मैं जय श्री राम बोलूँगा. इसके बाद अब अमित शाह ने भी बंगाल में जाकर के हुंकार भर दी है. अमित शाह ने बंगाल में रैली के दौरान कहा कि मैं जय श्री राम बोलूँगा, अगर हिम्मत है तो दीदी मुझे गिरफ्तार करके बता दे.

अमित शाह ने ममता बनर्जी के सामने जैसे ही ये चुनौती पेश की तो चारो तरफ मौजूद कई हजार लोगो की भीड़ चिल्ल्लाने लगी और ये आवाज मानो एक साथ में ममता बनर्जी को ललकार रही थी. बीजेपी जिस तरह से बंगाल में पाँव पसार रही है और अन्दर ही अन्दर ही अन्दर खुदको बूथ लेवल पर मजबूत कर रही है

उससे टीएमसी के हाथ पाँव फूलते चले जा रहे है और ऐसे में कही न कही एक बात तो साफ़ हो ही जाती है कि अब बंगाल में टीएमसी की वो साख नही बची है जो आज से दस साल पहले थी. टीएमसी और ममता बनर्जी के लिए मोदी लहर और हिंदुत्व के शंखनाद से खुदको दूर रख पाना लगभग नामुमकिन सा ही हो रहा है.