ममता बनर्जी ने देश के जवानो पर लगाया घटिया इल्जाम, लोग बोले ‘ये तो हद हो गयी’

346

पश्चिम बंगाल में वोटिंग चल रही है और देश की नजर इसी राज्य पर टिकी हुई है क्योंकि हर तरफ जहाँ भी नजर जा रही है वहाँ पर बंगाल में वोटर जमकर के वोट कर रहा है मगर गुंडागर्दी भी अपने चरम पर है. पश्चिम बंगाल में इस चरण के चुनाव में 80 प्रतिशत से भी अधिक वोटिंग हुई है जो सर्वाधिक है और ये ममता बनर्जी के लिए खतरे की घंटी भी है और इस वजह से ममता बनर्जी ने अभी से ठीकरा केन्द्रीय बल के जवानो पर फोड़ना शुरू कर दिया है.

ममता बनर्जी ने कहा कि आरएसएस और बीजेपी के कार्यकर्ता केन्द्रीय बलो की वर्दी पहनकर के चुनाव करवाने के लिए बंगाल में घुस रहे है जो साफ़ साफ़ तौर पर सीआरपीएफ जवानो के अपमान की तरह है जो अपनी जान हथेली पर रखकर पश्चिम बंगाल जैसी हिंसाग्रस्त जगह पर चुनाव करवाने के लिए जाते है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केन्द्रीय बल के जवानो पर आरोप लगाते हुए कहा कि इन लोगो ने बूथ पर गोली चलाई जिससे अल्पसंख्यक(मुस्लिम) घायल हो गया. ये कतार में खड़े लोगो से बीजेपी को वोट डालने के लिए कह रहे है. आप लोगो को शर्म आनी चाहिये. आप अपना कर्तव्य निभाने की बजाय ऐसे काम कर रहे है.

आज आप मोदी के लिए काम कर रहे हो, कल आप किसी और के लिए करोगे. ममता बनर्जी ने ये सारे के सारे इल्जाम बंगाल में चुनाव करवाने और वोटरों की सुरक्षा करने के लिए पहुँचे सीआरपीएफ के जवानो पर लगाये है जो बिलकुल ही समझ से परे है. सोशल मीडिया पर तो यही कहा जा रहा है कि अब ममता बनर्जी अपनी संभावित हार का ठीकरा बेचारे जवानो के सर पर फोड़ना चाह रही है और चाहती है कि उनकी हार के पीछे मोदी की चाल थी, लोगो को ऐसा दिखा दिया जाए.