मीडिया रिपोर्ट: गौतम गंभीर पर आप नेता आतिशी ने जो भी आरोप लगाये, उसका एक भी सबूत नही

144

पूर्वी दिल्ली की सीट इन दिनों में सबसे ज्यादा विवादास्पद सीट बन चुकी है. यहाँ पर त्रिकोणीय मुकाबला है जहाँ आम आदमी पार्टी से चुनाव लड़ रही है आतिशी मार्लेना. भारतीय जनता पार्टी से उम्मीदवार है गौतम गंभीर और कांग्रेस से चुनाव लड़ रहे है गौतम गंभीर. तीनो ही प्रत्याशी अपनी अपनी पूरी मेहनत करके चुनाव लड़ रहे थे लेकिन तभी अचानक से आम आदमी पार्टी ने एक प्रेस कांफ्रेस की जहाँ पर आप प्रत्याशी आतिशी ने रोते हुए गौतम गंभीर पर बेहद ही गंभीर आरोप लगाये.

मनोज सिसोदिया भी उसी प्रेस वार्ता में मौजूद थे जहाँ पर एक पर्चा लहराया गया. आम आदमी पार्टी और आतिशी मार्लेना की तरफ से दावा किया गया कि आप के नेताओं और आतिशी को बदनाम करने के लिए ये पर्चा अरविन्द केजरीवाल बंटवा रहे है. उस पर्चे में अरविन्द केजरीवाल और मनीष सिसोदिया के लिए अपशब्द लिखे गये थे और आतिशी के चरित्र को लेकर थोड़ी घटिया किस्म की बाते लिखी गयी थी. ये सब दिखाकर के आतिशी रोने लगी और कहा गया कि ये दिल्ली में बांटा गया ताकि उन्हें बदनाम किया जा सके.

गौतम गंभीर ने इन सब बातो को सिरे से खारिच कर दिया और कहा एक कागज का टुकड़ा दिखाकर के ऐसे घटिया आरोप नही लगा सकते. ये सब आप का ही किया धरा है. अगर मेने ऐसा कुछ किया है तो साबित करो, मैं राजनीति ही छोड़ दूंगा. गौतम गंभीर ने ऐसे आरोपों के जवाब में मानहानि का मुकदमा करने की भी धमकी दी

लेकिन इसी बीच एक रिपोर्ट आयी है जिसने सारी हवाओं का रूख ही बदलकर के रख दिया है. रिपोर्ट इंडिया टुडे की एक पत्रकार पूजा शाली ने ने तैयार की है और ये लगभग 50 लोगो से बात करने के बाद तैयार की गयी रिपोर्ट है. पत्रकार ने एक विडियो ट्विटर पर जारी किया है जिसमे उन्होंने उस जगह की ग्राउंड रिपोर्टिंग की जहाँ पर ऐसे पर्चे बांटने का दावा हुआ. वहां पर एक भी व्यक्ति ने भी नही माना कि उन्हें ऐसा कोई भी पर्चा मिला है.

एक व्यक्ति ने फोन पर माना लेकिन बादमे उसने भी मिलने से मना कर दिया. ऐसी कई ग्राउंड रिपोर्ट्स सामने आयी है लेकिन उनमे ऐसा कुछ भी सामने नही आया है जिस आधार पर ये माना जा सके कि ऐसा कोई बदनाम करने वाला पर्चा लोगो के बीच बंटा हो. अगर नही ऐसा कुछ हुआ ही नही है तो फिर आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया और आतिशी मार्लेना के पास ये कैसे पहुंचा? ये भी रिसर्च का विषय है.