दीदी ने फिर दिखायी दादागिरी, बंगाल में पीएम की रैली पर लगायी बाधा

199

पश्चिम बंगाल लगातार अपनें गिरते हुए लोकतंत्र के स्तर को लेकर के चिंतित है मगर ममता बनर्जी अपनी सत्ता को बचाने के लिए हर बार सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग करके लोकतंत्र को ठेंगा दिखा रही है. पहले भी ऐसे कई किस्से देखने में आते रहे है जिनमे ममता बनर्जी ने बीजेपी के नेताओं के हेलीकॉप्टर उतरने पर रोक लगायी थी. इसके बाद बीजेपी ने कोर्ट कचहरी के चक्कर लगाये और मामला कुछ हद तक शांत हुआ लेकिन अब एक बार फिर से वही सब दोहराया जाने लगा है.

रिपोर्ट की माने तो टीएमसी और उनकी मुखिया ममता बनर्जी फिर से सरकारी मशीनरी का उपयोग करके बीजेपी के नेता और देश के पीएम मोदी की रैलियो को बाधित करने की योजना बना रही है. बीजेपी ने भी ऐसा ही दावा किया है और इस चिंता को लेकर के भारतीय जनता पार्टी फिर से चुनाव आयोग की शरण में पहुँची है और ममता सरकार पर लगाम लगाने की माँग की है.

भारतीय जनता पार्टी की तरफ से चुनाव आयोग को शिकायत करके कहा गया है कि ममता बनर्जी और उनके नेता बंगाल के जिला प्रशासन के अधिकारियों पर दवाब बनाकर पीएम मोदी की रैलियों को बाधित करने का प्रयास कर रहे है. चुनाव आयोग ने इस मामले पर संज्ञान लेते हुए बीजेपी को आश्वासन दिया है कि वो इस मामले पर गंभीरता से देखेंगे और जो भी दोषी होगा उस पर कार्यवाही की जायेगी.

ममता बनर्जी की इन हरकतों पर देश की रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण भी बिफर पड़ी और उन्होंने कहा कि बंगाल में लोकतंत्र सबसे ज्यादा खतरे में पहुँच चुका है जिससे वहाँ की जनता त्रस्त है. इन सबके बीच ममता बनर्जी अपने ही तरीके से सब चीजो को हेंडल करने में लगी हुई है. वो अपनी रैलियों में खुलेआम पीएम मोदी को कंकड़ खिलाकर उनके दांत तोड़ने की बाते करती है जो अपने आप में बेहद ही भयावह है और बंगाल में हो रहे दुराचार की तरफ इशारा करता है.