बाबा रामदेव ने सीताराम येचुरी पर दर्ज करवाया मुकदमा, कड़ी कार्यवाही की मांग

106

चुनाव चल रहे है और ऐसे में बयानबाजी से लेकर हर तरह से अलग अलग विचारधारा के लोग भिड़े जा रहे है. हाल ही में ऐसा ही केस बाबा रामदेव के साथ में देखने में आया है क्योंकि वो इन दिनों में बहुत ही ज्यादा भड़के हुए है. रिपोर्ट के अनुसार बाबा रामदेव ने सीपीआई के नेता सीताराम येचुरी पर केस दर्ज करवाया है और उन पर कड़ी कार्यवाही करने की मांग की है. अगर आपको जानकारी न हो तो बता दे सीताराम येचुरी ने बयान दिया था कि कौन कहता है हिन्दू हिंसक नही हो सकते है?

इसे संत समाज ने अपमान की तरह लिया और उनके खिलाफ देश भर में फूट पडा. सीताराम येचुरी के इस बयान के खिलाफ हरिद्वार का संत समाज भी इकठ्ठा हुआ जिसका सबसे बड़ा चेहरा बाबा रामदेव थे. बाबा रामदेव ने सीताराम के इस बयान को तो गलत और निरर्थक बताया ही है साथ ही साथ उन्हें अपना नाम बदलकर रावण या कुछ और नादिर जैसा रख लेना चाहिए.

बाबा रामदेव का कहना है कि अगर कोई कम्यूनिस्ट रामायण में मानता ही नही तो अपना नाम सीताराम रखने का क्या मतलब है? बाबा जी यही पर ही नही रुके उन्होने संत समाज के लोग के साथ मिलकर सीताराम येचुरी के खिलाफ एसएसपी से मिलकर उन्हें तहरीर दी, उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई. इसके बाद उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही की मांग की गयी. बाबा रामदेव ने चेतावनी भी दी है कि अगर सीताराम येचुरी के खिलाफ समय रहते कार्यवाही नही की जाती है तो हम लोग देशव्यापी आन्दोलन करेंगे.

अब देखना तो यही होता है कि बाबा रामदेव की तरफ से उठाया गया ये कदम किस हद तक रंग ला पाता है? बाबा रामदेव ने इसके अलावा पूरे देश से कम्यूनिस्टो का बहिष्कार कर देने की अपील भी की है. बाबा रामदेव ने आरोप लगाये कि ये लोग बड़े ही क्रूर और असहिष्णु होते है.