वोटिंग से पहले बीजेपी के काफिले पर हमला, गाड़ी के उड़े चिथड़े

259

देश भर में चुनाव का माहौल है और इस माहौल में अगर कोई खुश नही है तो वो लोग वो शक्तियां जिन्हें लोकतंत्र से कमजोर किया जा सकता है और उनमे से एक है नक्सली जो छत्तीसगढ़ में एक बार फिर से हरकत में आ गये है. भारतीय जनता पार्टी के विधायक भीमा मंडावी का काफिला गुजर रहा था जो दंतेवाड़ा में अपना प्रचार कर रहे थे और इसी बीच जब वो चुनाव करके वापिस लौट रहे थे तो वहां पर आईईडी ब्लास्ट हो गया. ये ब्लास्ट इतना जोरदार था कि जिस गाडी में भीमा मांडवी बैठे हुए थे उस गाडी के परखच्चे उड़ गये और इस ऊपर से वो गाडी पूरी तरह से बुलेटप्रूफ थी.

गाडी में मौजूद विधयाक जी का मौके पर ही निधन हो गया और इस पूरी घटना में तीन सुरक्षा के जवान भी शहीद हुए. रिपोर्ट के अनुसार इस धमाके के बाद नक्सली वही पर ही मौजूद थे और उन्होंने धमाके के बाद भी फायरिंग जारी रखी और कुछ वक्त के बाद में वहाँ से फरार हो गये लेकिन पीछे बहुत ही भयानक मंजर छोड़ गये जहाँ पर सिर्फ और सिर्फ सन्नाटा था जहाँ कुछ ही वक्त में चीखे और चीत्कार के अलावा और कुछ भी नही था.

इस घटना ने कही न कही पूरे बस्तर जिले को तोड़कर के रख दिया है क्योंकि यहाँ पर भीमा मंडावी अकेले ही एक भारतीय जनता पार्टी के नेता थे और वो सीधे नक्सलियों के खिलाफ खड़े थे जो कही न कही इस इलाके में लोकतंत्र की इकलौती उम्मीद थे और उनके चले जाने से एक बड़े ही प्रभावशाली नेता को देश ने खो दिया है.

साथ ही साथ में इस हमले में तीन जवान भी शहीद हुए है. अभी सुरक्षा बलों ने अपनी अपनी पोजीशन ले रखी है और हर तरफ नक्सलियों का सफाया किया जा रहा है ताकि छत्तीसगढ़ में शान्तिपूर्ण तरीके से चुनाव करवाए जा सके.