चुनाव के लिये चंदा मांग कन्हैया ने जुटा लिया इतना पैसा, लोग बोले अगला केजरीवाल

1638

कन्हैया कुमार इन दिनों काफी चर्चा में है और चर्चा में होने की वजह है कन्हैया कुमार की राजनीतिक महत्त्वकांक्षा. जेएनयू में लगे भारत विरोधी नारो की गूँज से उपजे नेता कन्हैया कुमार ने फैसला किया है कि इस बार वो बिहार के बेगूसराय से चुनाव लड़ेंगे. पहले उन्होंने आरजेडी से समर्थन माँगा था लेकिन उन्हें धोखा मिला और वो अकेले पड़ गये जिसके बाद में कन्हैया कुमार ने अकेले ही चुनाव लड़ने का फैसला किया. हालाँकि उन्हें लेफ्ट पार्टियों का समर्थन हासिल हो रखा है. कन्हैया ने चुनाव लड़ने की बात करते ही अपने लिए चन्दा मांगना शुरू कर दिया है और चंदा मांगने के लगभग एक घंटे के भीतर कन्हैया कुमार को दो लाख रूपये की मदद पहुँच भी गयी है. कन्हैया को फंड करने वाले लोग कौन है?

ये तो कोई भी नही जनता है और न ही कोई बता रहा है लेकिन अब कन्हैया जोर शोर के साथ में चुनाव में उतर रहा है और वो इसके लिए अब तक 2 लाख से ज्यादा की रकम जुटा भी चुका है और आगे की फंडिंग भी जारी है. रिपोर्ट्स की माने तो अगर बीजेपी हाईकमान का फैसला अटल रहा तो कन्हैया कुमार अपना चुनाव बीजेपी के काफी कद्दावर नेता कहे जाने वाले गिरिराज सिंह के सामने लड़ेंगे

और इसके लिए अभी गिरिराज सिंह सामने होंगे या फिर नही ये तो आने वाला समय बतायेगा मगर कन्हैया बेगूसराय के रास्ते लोकसभा में जाने के रास्ते जरुर तलाश रहा है. आपको बता दे आज से ठीक दो साल पहले जेएनयू में भारत विरोधी नारे लगे थे जिनमे कन्हैया कुमार को आरोपी बनाया गया और इसको मीडिया कवरेज भी मिला और तभी से कन्हैया को काफी फुटेज मिलना शुरू हो गया.

इसके बाद से कन्हैया को टीवी डिबेट्स में भी बुलाया जाने लगा और देखते ही देखते कन्हैया को बिनमाँगी लोकप्रियता अचानक से ही मिलने लग गयी जिसे अब कन्हैया कुमार ने इस लोकसभा चुनाव में बेगूसराय से भुनाने का प्रयास किया है और इसका परिणाम क्या निकलकर के आता है? ये तो आने वाला समय ही बता पायेगा.