अलका लाम्बा का आरोप ‘मीटिंग में गधा और टुच्चा कहकर के बुलाते है केजरीवाल’

4200

चुनावों का मौसम आ गया है और इस मौसम में कई नेता है जो अपना पाला और रंग बदलते है. कईयो का आत्मसम्मान जाग उठता है तो कई लोगो को घुटन महसूस होने लगती है. ऐसा ही कुछ आप की नेता अलका लाम्बा के साथ में भी होते हुए नजर आ रहा है. चांदनी चौक से आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लाम्बा ने तकरीबन पार्टी को छोड़ दिया है और पूरे पूरे आसार है कि वो कांग्रेस में पुनः वापसी कर रही है. उनकी आप से कई मुद्दे पर तकरार हुई थी जिसके अलका लाम्बा अब पार्टी का हिस्सा नही है. अभी हाल ही में एक रिपोर्टर से बात करते हुए अल्का लाम्बा ने कहा कि आप में जब भी विधायको की मीटिंग होती है तो केजरीवाल विधायको का अपमान करते है.

वो अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते है, यहाँ तक कि लोगो को गधा है, टुच्चा है जैसे शब्दों का इस्तेमाल भी करते है. वो कहते है कि वो अक्सर कह देते है इसकी कोई औकात नही है. अलका लाम्बा का आरोप है कि आप पार्टी के संगठन और चर्चाओं में सभ्यता जैसी कोई भी चीज नही होती है.

इससे पहले वो आम आदमी पार्टी पर एक कमजोर और निर्बल पार्टी होने के आरोप भी लगा चुकी है जिसके बस का कुछ भी नही है. आप विधायक अलका लाम्बा ने कहा कि जब मैंने राजीव गांधी के खिलाफ दिल्ली की विधानसभा में लाये गये प्रस्ताव की कॉपी हमारे व्हाट्स एप्प ग्रुप में डाली और पूछा कि ये सब क्या है? पार्टी का स्टैंड इस पर क्या है? तो मुझे जवाब देते हुए केजरीवाल ने कहा ‘तुम क्या बक रही हो?’

इसके बाद मुझसे इस्तीफा भी मांग लिया गया और मैं इस्तीफा देने के लिए राजी हो गयी. अरविन्द केजरीवाल के साथ में दिक्कत बहुत बड़ी है क्योंकि जिन लोगो के साथ में उन्होंने पार्टी शुरू की थी वो सब उनपर बेहद ही भयंकर आरोप लगाकर के पार्टी छोडकर के चले गये है और उन्हें बड़ा ही अहंकारी बताकर के गये है जिसमे सबसे बड़ा नाम कुमार विश्वास का भी आता है.