महबूबा मुफ्ती ने जतायी ‘जय हिन्द’ बोलने पर आपत्ति, लोग बोले ‘पकिस्तान प्रेमी’

461

महबूबा मुफ्ती बार बार अपने देश विरोधी बयानों के चलते चर्चा में रहती है. अभी हाल ही में जब हिन्दुस्तान और पाकिस्तान के बीच में युद्ध जैसे हालात खड़े हो गये थे तब भी महबूबा मुफ्ती ने पाकिस्तान और उनके प्रधानमंत्री का पक्ष लेते हुए भारतीय सेना और भारत की सरकार पर ही सवाल खड़े कर दिये थे. ये मामला अभी ठंडा ही नही पड़ा था कि महबूबा मुफ्ती एक बार फिर से चर्चा में है और चर्चा में होने की वजह है उनका जय हिन्द बोलने पर आपत्ति दर्ज करवाना. आपको जानकारी न हो तो बता दे देशहित में निर्णय लेते हुए भारत की सबसे बड़ी एयरलाइन ‘एयर इंडिया’ ने फैसला लिया था कि अब प्लेन का क्रू प्लेन में अनाउंसमेंट के बाद में जय हिन्द भी बोलेगा.

इसमें सरकार का कोई भी हस्तक्षेप नही था. एयरलाइन के बोर्ड ने खुद अपने विवेक से ये निर्णय लिया था ताकि यात्रियों को यात्रा करते वक्त महसूस हो कि वो हिन्दुस्तान को गौरवान्वित करने वाली एयरलाइन में सफर कर रहे है लेकिन महबूबा मुफ्ती ने इससे ऐतराज जता दिया.

महबूबा मुफ्ती ने जय हिन्द को न सिर्फ राजनीतिक बताया बल्कि ये कहा कि अब चुनाव जीतने के लिए हवा में भी जय हिन्द बोला जायेगा. एक तरीके से महबूबा मुफ्ती जय हिन्द बोलने से आपत्ति जता रही है और जैसे ही उनका ये बयान सामने आया है उसके बाद से ही लोग उन्हें नसीहत दे रहे है कि उन्हें पाकिस्तान ही चले जाना चाहिए या फिर हिन्दुस्तान से इस हद तक दिक्कत होने लगी है तो फिर उन्हें खुलकर के अपनी विचारधारा को सामने रख देना चाहिए. ये आधी अधूरी लुका छिपी भला कब तक चलने वाली है?

इससे पहले महबूबा मुफ्ती कश्मीर में सेना की तैनाती, वन्देमातरम और तमाम चीजो को लेकर के भी विरोध करती हुई नजर आयी है और इस तरह के विचारधारा में टकराव के चलते ही बीजेपी का पीडीपी के साथ में गठबंधन ज्यादा वक्त तक टिक नही पाया और अब महबूबा सत्ता से बाहर रहकर खुलकर देश का विरोध करने वालो की पैरवी कर रही है.