भारतीय वायुसेना पाकिस्तान में घुसी, कई कैम्प तबाह और आतंकी साफ़

415

पुलवामा में जो कुछ भी हुआ उसके बाद से ही देश में एक गुस्सा था और इस गुस्से को भांपते हुए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेना को खुली छूट दे दी थी कि चाहे कुछ भी हो कैसे भी हो आप अपने हिसाब से कार्यवाही करो. इसके बाद सेना ने कार्यवाही के लिए पूरा प्लान तैयार किया और प्लान के तहत जिस जिस जगह पर जैश के ठिकाने पाकिस्तान बॉर्डर पर बने है उनकी मार्किंग हुई. अब 26 फरवरी की सुबह के लगभग 3 बजे के बाद इंडियन एयरफाॅर्स के 12 मिराज पाकिस्तान की सीमा में एलओसी के अन्दर दाखिल हुए जहाँ पर उन्होंने तीन इलाको पर बमबारी की जिसमे बालकोट का इलाका भी शामिल है.

इस इलाके में वायुसेना ने घुसकर के बम बरसाए और इसमें कई कैम्पों के ध्वस्त हो जाने की भी खबर आ रही है. अगर ऐसे में कैम्प के कैम्प ध्वस्त हो गये है तो फिर ये सेना की बहुत ही बड़ी कामयाबी है क्योंकि भारत ने पहली बार एयर स्ट्राइक की है और वो भी इतनी सफलता पूर्वक.

बड़ी बात ये भी है कि पाकिस्तान भी मान चुका है कि इंडियन एयरफ़ोर्स के विमान उनके इलाके में घुसे थे लेकिन वो किसी भी तरह के नुकसान से इनकार कर रहे है. कहा जा रहा है जैश के सारे के सारे ठिकाने खत्म कर दिए गये है और इतना ही नही इसके अन्दर कई आतंकी भी निपटा दिए गये है. हालांकि कोशिश यही रही है कि इसमें किसी भी सिविलियन को किसी तरह का नुकसान न पहुंचे और यही भारत की मिसाल है. इस कार्यवाही को करने के तुरंत बाद मिराज के सभी एयरक्राफ्ट सुरक्षित भारत की सीमा में लौट आये है.

अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार अजीत डोभाल सेना के अधिकारियों से पूरी रिपोर्ट ले रहे है और क्योंकि ये बहुत ही बड़ी सफलता है तो ऐसे में कही न कही पाक को बड़ा झटका लगा है और अब वो दुबारा हिन्दुस्तान की तरफ आँख उठाने से पहले भी सौ बार नही बल्कि हजार बार सोचेगा.